loader image

Blog

Blog

काक चेष्टा, बको ध्यानं, स्वान निद्रा तथैव च।
अल्पहारी, गृहत्यागी, विद्यार्थी पंच लक्षणं।।

Bhagavad Gita Chapter 16 in Hindi

Bhagavad Gita Chapter 16 in Hindi

सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता ~ Bhagavad Gita Chapter 16 in Hindi अध्याय सोलहवाँ दैवासुरसम्पद्विभागयोग   श्रीमद भगवद् गीता का सोलहवां अध्याय (Bhagavad Gita Chapter 16 in Hindi) “दैवासुरसम्पद्विभागयोग” कहलाता है। इस अध्याय में भगवान कृष्ण अर्जुन को दो विभिन्न प्रकार की सम्पदाओं के विषय में बताते हैं, जो मनुष्य को भोग में लगा देती हैं और जो उसे उसकी आत्मा के प्रति

Share
Read More »
Shiv Manas Pooja in hindi

Shiv Manas Pooja in Hindi

शिव मानस पूजा (Shiv Manas Pooja Hindi) एक सुंदर भावनात्मक स्तुति है, जो आदि गुरु शंकराचार्य द्वारा रचित, जिसमे कोई भी प्राणी मानसिक रूप से भगवान् शिव की पूजा कर सकता है। भगवान शिव की पूजा करने के लिए कोई प्राणी बिना किसी साधन-सामग्री के शिव मानस पूजा स्तोत्र से कर सकता हैं। शिव मानस पूजा एक आध्यात्मिक अभ्यास है

Share
Read More »
Ramayan Manka 108

Ramayan Manka 108 in hindi/English

रामायण मनका 108 (Ramayan Manka 108) हिंदी भाषा में एक भक्ति भजन है जिसमें 108 छंद हैं। यह भगवान राम के भक्तों द्वारा विशेष रूप से रामनवमी के त्योहार के दौरान की जाने वाली एक लोकप्रिय प्रार्थना है। भजन भगवान राम की कहानी, उनके जन्म से लेकर राक्षस राजा रावण पर उनकी जीत तक का वर्णन करता है। इसमें भगवान

Share
Read More »
shiv chalisa

Shiv Chalisa with Meaning in Hindi/English

शिव चालीसा (shiv chalisa) हिंदू धर्म में भगवान शिव के महत्वपूर्ण मंत्रों में से एक है। यह चालीसा भगवान शिव की महिमा, गुण, और भक्ति को व्यक्त करती है। इसमें चालीस श्लोक होते हैं, जो भगवान शिव के विभिन्न नामों और उनकी महिमा का वर्णन करते हैं। शिव चालीसा का पाठ करने से भक्त को मन की शांति, सुख, और

Share
Read More »
Ganesh Aarti

Ganesh Aarti गणेश आरती

देवो में प्रथम पूज्य देव भगवान श्री गणेश को माना जाता है। सनातन हिंदू धर्म में किसी भी शुभ काम करने से पहले भगवान श्री गणेश की पूजा-आरती की जाती है। भगवान श्री गणेश विघ्नहर्ता के नाम से भी जाने जाते है। कोई भी शुभ कार्य करने से पहले विघ्नहर्ता गणेश की पूजा और श्री गणेश आरती (Ganesh Aarti) करने

Share
Read More »
महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि का पर्व क्यों मनाया जाता है, जानिए इसका महत्व

भगवान शिव को सत्यम शिवम सुंदर कहा जाता है। सत्य ही शिव हैं… शिव ही सुंदर है। भगवान आशुतोष की महिमा अपरंपार है। भगवान शिव को प्रसन्न करने का महापर्व ही महाशिवरात्रि है। महाशिवरात्रि सनातन हिन्दू धर्म का धार्मिक त्योहार है। भगवान शिव का प्रमुख पर्व होने से इस दिन शिव भक्त भगवान शिव का व्रत-उपवास रखते हैं और विशेष

Share
Read More »
Bhagavad Gita Chapter 15 in Hindi

Bhagavad Gita Chapter 15 in Hindi

Shrimad Bhagvat Geeta in English ~ श्रीमद् भगवदगीता in Hindi   सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता ~ Bhagavad Gita Chapter 15 in Hindi अध्याय पंद्रहवाँ पुरुषोत्तमयोग   श्रीमद भागवत गीता (Bhagavad Gita Chapter 15 in Hindi) के अध्याय पंद्रहवाँ को पुरुषोत्तमयोग के नाम से जाना जाता है। भागवत गीता के पंद्रहवाँ अध्याय में भगवान श्री कृष्ण द्वारा अर्जुन को संसाररूपी अश्वत्वृक्ष का स्वरूप

Share
Read More »
Upanishad Information

Upanishad Information

उपनिषद शब्द का अर्थ | उपनिषद का रचनाकाल | मुख्य उपनिषद् कितने है | उपनिषदों का महत्व | Upanishad Information   उपनिषद (Upanishad Information) संस्कृत भाषा में लिखे गए वैदिक साहित्य यानि हमारे चार वेद के ही भाग है, और सनातन धर्म के अधिक महत्त्वपूर्ण श्रुति धर्मग्रन्थ हैं। उपनिषदों की कुल संख्या 108 हे, जो संस्कृत भाषा में गद्य –

Share
Read More »
Mahakal Lok Ujjain

Mahakal Lok Ujjain Complete Information

महाकाल लोक का आकर्षण का केंद्र नंदी द्वार और पिनाकी द्वार, 200 बड़ी-बड़ी प्रतिमाएं, 108 स्तंभ… महाकाल लोक के बारे में अधिक जानकारी   महाकाल लोक (Mahakal Lok Ujjain) मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र में शिप्रा नदी के किनारे विश्व प्रसिद्ध महाकाल की उज्जैन नगरी में स्थित महाकालेश्वर मंदिर 12 ज्योतिर्लिंग में से एक ज्योतिर्लिंग है। महाकाल लोक का निर्माण

Share
Read More »
introduction of Four Vedas

चार वेद की संपूर्ण जानकारी और महत्व, संक्षिप्त परिचय / (introduction of Four Vedas)

सभी विद्वानों द्वारा एकमत से वेदो को इस संसार का प्राचीनतम ग्रंथ स्वीकार किया गया है। वेद शब्द का सामान्य अर्थ ज्ञान है। आचार्य सायण के अनुसार वेद वह शब्द- राशि है, जो अभीष्ट प्राप्ति और अनिष्ट को दूर रखने का अलौकिक..

Share
Read More »
Bhagwat Geeta Chapter 14 Hindi

Bhagavad Gita Chapter 14 in Hindi

श्रीमद भागवत गीता के अध्याय चौदह को गुणत्रयविभागयोग के नाम से जाना जाता है। भागवत गीता के चौदह अध्याय में भगवान श्री कृष्ण द्वारा अर्जुन को ज्ञान की महिमा और प्रकृति-पुरुष से जगत्‌ की उत्पत्ति…

Share
Read More »
mahakavya

Mahakavya – महाकाव्य

महाकाव्य सभी प्राचीन देश की सभ्यता और संस्कृति को प्रगट करने का माध्यम रहा है। महाकाव्य की रचना भारत में संस्कृत, हिंदी और अन्य कई भाषा में हुई है। महाकाव्यों में महर्षि वाल्मीकि रचित रामायण,…

Share
Read More »
Share
Share
Share